तेवरी · Reading time: 1 minute

अपना तो यही मिज़ाज है___

ग़लत बात बर्दाश्त नहीं है, ग़लत नहीं सुनकर दूँगा।
जिस भाषा में बोलोगे, उस भाषा में उत्तर दूँगा।।
-विपिन शर्मा

36 Views
Like
You may also like:
Loading...