कवितागज़ल/गीतिकामुक्तकगीतलेखदोहेलघु कथाकुण्डलियाकहानीहाइकुबाल कविताघनाक्षरीतेवरीकव्वाली

"माँ" काव्य संग्रह रचना सूची - साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता 2018

साहित्यपीडिया काव्य संग्रह "मां" के लिए रचनाओं का चुनाव कर लिया गया है। हमारी कोशिश है कि अधिक से अधिक रचनाओं को इस संग्रह में शामिल... Read more

सिन्हा हारता नहीं, यथार्थ में जीता है...

मेरी कलम से... आनन्द कुमार क्या कहा, सिन्हा हार गये, अरे कौन सिन्हा शत्रु, अरे नहीं शत्रु नहीं, फिर कौन, अरे भाई, मनोज सि... Read more

आवाम! चलो आज तुम्हे बधाई देते हैं!!!

आवाम !चलो आज तुम्हे बधाई देते हैं, तुम्हारी बेरोजगारी को, तुम्हारी नकारेपन और निठ्ठलेपन को, तुम्हारी गुलाम मानसिकता को, खुश हो ज... Read more

चली है मोदी की ऐसी आंधी ---आर के रस्तोगी

चली है मोदी की ऐसी आंधी | जिसमे उड गये राहुल गाँधी || हो न जाये काग्रेस में बगावत | आ न जाये परिवार में आफत || जब आंधी ऐसे ज... Read more

केसरिया

Neha कविता May 23, 2019
केसरिया ही केसरिया जन जन के मन बसा है केसरिया देखो आ ही गया फिर से केसरिया राष्ट्रवाद की लहर ले आया विकास की फिर से ... Read more

गीत-संगीत में रूचि #100 शब्दों की कहानी#

छोटा राहुल कक्षा में गुमसुम बैठा था, लंच में रिया और रमेश ने कारण पूछा, जो दूसरी कक्षा में पढ़ते, लेकिन ठहरे पक्के दोस्त । पता चला,... Read more

जिंदगी में हार जीत

दिनांक 23/5/19 हार जीत विधा - हाइकु कठिन रास्ते जिन्दगी है मुश्किल है हार जीत करो संघर्ष हार बदले जीत रखो संतोष ... Read more

ख़तम न हो इंतजार -

हर पल हर घड़ी इंतजार रहे ,,ता उम्र यह बरकरार रहे। काश दुःख की घड़ियां बीत जाएं ,खुशी के इंतज़ार में। जुदाई महसूस न हो मिलन के इन्त... Read more

२५ वीं वर्षगांठ गृहस्थ जीवन की

rekha rani गीत May 22, 2019
साथ रहेंगे सात जन्म तक ,वादा रहा यह अपना,। बांधी तुम संग प्रीत की डोरी,याद आ रहा वह सपना। याद है सारे स्वर्णिम पल ... Read more

परिणाम आ रहें हैं,परिणाम आ रहें हैं

हाथ के इशारे कमल खिला रहे हैं, परिणाम आ रहें हैं,परिणाम आ रहें हैं। देखेंगे भैया पप्पू बाँहें हैं ऊपर करते, चुनाव हार कर वह इटल... Read more

नाव जीवन का सहारा (पिरामिड वर्ण)

दिनांक 22/5/19 1 है नाव सहारा मंझधार पार जाने का ईश्वर नाम ले भक्त भक्ति प्रार्थना 2 जो नाव चल दे नदी पार कि... Read more

चिंता नारी की

दिनांक 22/5/19 विधा - हाइकु जीवन चले रोज़ी रोटी बच्चे नारी की शान न रहे भूखा बाहर परिवार नारी की चिंता खाना ... Read more

मेरे बुद्ध होने की कीमत

प्रश्नों ने बेचैन किया यूँ मिली न मेरे मन को राहत छोड़ दिया घरबार सभी कुछ राजकुँवर से बना तथागत देख न पाया था कोमल मन जीव... Read more

राजनीति होती अवसरवादी है

मीटर..212-122-222-22 ---------------------------------- राजनीति होती अवसरवादी है। पैंतरा चले वो ही फ़ौलादी है।। झूठ बोल सकता ... Read more

ज़िंदगी ज़ोश भर जी लीजिए

ग़ज़ल-मीटर-212-212-221-2 ---------------------------------------- ज़िंदगी ज़ोश भर जी लीजिए। प्यार का ज़ाम गर पी लीजिए।। लोग चाहे कह... Read more

उनके प्यार की धूप आने लगी है ---आर के रस्तोगी

उनके प्यार की धूप आने लगी है सुबह से ही मुझको गर्माने लगी है देखता हूँ वे पिघलती है न पिघलती पर मेरे दिल की बर्फ पिघलने लगी है... Read more

मंजिलों की ओर

मंजिलों की ओर (गीतिका) ~ मंजिलों की ओर बढ़ना है हमें। शक्ति का प्रतिमान बनना है हमें। भोर की पहली किरण के साथ ही, लक्ष्य... Read more

इवीएम पर कुंडली --आर के रस्तोगी

हार हो जाये ,तब इवीएम में है दोष जीत जाये तो वह बिल्कुल है निर्दोष बिल्कुल है निर्दोष किस पर ठीकरा फोड़े मिला नहीं कोई तो इ व... Read more

नवगीत

नेता हैं ***** नेता हैं कुछ भी कह देंगे भाषा से क्या लेना-देना इनको तो बस वोट चाहिये ये तो हैं केले के पत्ते भिड़ के... Read more

में बेरोजगार हूं

ये दुनिया चोरों की बस्ती है हर नजर यहां पर डसती है हर कदम हमारा रोका है हर हार पर मेरी हसती है सब कहते है में बेकार हूं पड़ ... Read more

अधूरी प्रेम कथा ......

नजरअंदाज करना उनका सबको खलने लगा । मैं ये सोच कर हैरान था ।वो क्यो अब मुस्कराती नही ।। शायद गलतियाँ हुई होंगी मुझसे। वो नाराज है... Read more

यूँ मुझसे दामन छुडा रहा है

यूँ मुझसे दामन छुडा रहा है वो मुझपे तोहमत लगा रहा है वो ख़ाक मेरी उडा उडा कर हवाओं का रुख दिखा रहा है सजा के होठों पे मु... Read more

करना है जो वो कर ही चले...

करना है जो वो कर ही चलें, बातों से मन बहलाये क्यों... छोटी - छोटी भूले भूलें, इनको बेकार बढ़ाएं क्यों... कुछ घर मिट्टी ही रहने द... Read more

जिंदगी एक पहेली

दिनांक 21/5/19 है मौत एक पहेली चलता शरीर सांस रूकी लाश में है तब्दील रिश्ते है एक पहेली नाजुक सी है डोर जो फि... Read more

सफ़र प्यार के गर भाते हैं

फूल खिलते हैं मगर एक दिन मुर्झाते हैं। लोग मिलते हैं मगर एक दिन खो जाते हैं।। मीटर-2122-2122-1222-22 याद आती हैं खिली प्यार की ... Read more

एक सच्ची घटना ---आर के रस्तोगी

पिछले दिनों हमारे मेरठ शहर में एक प्रसिद्ध ज्योतिषी व विद्वान जो देहरादून के रहने वाले है का आगवन हुआ जिनकी भविष्यवाणी काफी सही न... Read more

चुनाव का मौसम है आया ! ( हास्य-व्यंग्य कविता )

चुनाव का मौसम है आया , शरारत करने का मन ललचाया , नेताजी कि कुर्सी का। … ... Read more

चांडाल

ये एक नकारात्मक व्यक्ति के बारे में एक नकारात्मक कविता है। इस कविता में ये दर्शाया गया है कि कैसे एक व्यक्ति अपनी नकारात्मक प्रवृत्... Read more

मुक्तक

जब धुप की चाँदी जम कर सर पे बरसेगी साया भी अपने दामन से लिपटने को तरसेगी / खिली धुप में तुम पुर्दिल सबनम सा मोती रख देना मोत... Read more

बेचैन दिल

दिनांक 20/5/19 पिरामिड वर्ण 1 है दिल बेचैन कौन देगा अंतिम समय गुजरती नैया घटती उम्र धोखा 2 वो दिल से दूर बेकरा... Read more

जो तू न भूले तो बात बराबर।

आगाज़ किया है मैंने साथी, सच से सीधा आँख मिला कर, क्या इंकलाब भी रोया होगा, भूखे बच्चों से आँख मिला कर गंगा-सतलुज में क्या आँखे ध... Read more

राणा प्रताप जी के प्रति

राणा प्रतापजीके प्रति मेवाड़ मुकुट क्षत्रिय गौरव, हे वीर शिरोमणि कुलभूषण साहस सम्बल प्रतिमूर्ति शिखर जयवंत कंवर के स्वाभिम... Read more

जय भारत जय भारती ।

जय भारत जय भारती । अमृत कलश घट पुष्प भर मातृभाषा को समर्पित है पटल निज सतत् शब्द समूह रच नित भाव विरचित आरती । जय भारत... Read more

चुनाव परिणाम आने का बाद का द्रश्य--आर के रस्तोगी

मोदी की सरकार,तीन सौ के पार , सुना है यह जब से गठ्बब्धन ने , मचा है उन सब मे हाहाकार , कौन बनेगा अब प्रधान मंत्री , अब कोई नहीं... Read more

गीत(दिगपाल छंद)

जब जब तुम्हें पुकारा,घनश्याम हे मुरारी तुमने सदा हरी हैं ,विपदा सभी हमारी ये ज्ञान तुम हमें दो ,सदमार्ग पर चले हम विनती यही ,न... Read more

गीत(दिगपाल छंद)

जब जब तुम्हें पुकारा,घनश्याम हे मुरारी तुमने सदा हरी हैं ,विपदा सभी हमारी ये ज्ञान तुम हमें दो ,सदमार्ग पर चले हम विनती यही ,न... Read more

दुनिया गोल है

बस खचाखच भरी हुई थी। कई डबल सीटों पर तीन-तीन सवारियाँ मुश्किल से बैठी हुई थीं। एक सज्जन बड़े आराम से पैर फैलाये बैठे थे। "भाई साहब ... Read more

मुक्तक

वफ़ा नफरत जो मिले, बिना शर्त लिए जा रहा हूं... जिंदगी को शतरंज समझ, श्य मात दिए जा रहा हूं...!! **** ना लिखने की शैली का ज्ञान,... Read more

आप आये बहार गई

हमें तुझसे बिछडने का बहाना मिल गया होता अगर तुझसे न मिलते हम ज़माना मिल गया होता उदासी में न कटते दिन न रो रो के गुज़रती रात ... Read more

कश्मीर हमारा

धरती पे उतर आया है जन्नत का नज़ारा क़ुदरत का हसीं तोहफा है कश्मीर हमारा खुश होके खुदा ने हमें बख्शी है ये नेअमत दुनिया की नि... Read more

सगा बेटा - एक धोखा

दिनांक 19/5/19 स्वतंत्र लेखन रामलाल अपनी जिंदगी भर की कमाई लगा कर शानदार मकान बनवा रहे थे । उनके दो लडके थे बड़े गर्व के साथ ... Read more

गुलमोहर

सडक के उस पार गली के छोर पर हुआ करते थे दो गुलमोहर ... बडे़ मनोहर लगते थे मुझे जब लद जाया करते थे फूलों से ...... Read more

चार दिनों में खो गया, कैसा था वो प्यार

चार दिनों में खो गया, कैसा था वो प्यार बात मानने को तभी , हुआ न दिल तैयार कहते थे तुम ही कभी, रहते हो बेचैन यादों में डूबे ... Read more

बातें खरी-खरी

करना जन गुमराह भी,एक बड़ा अपराध। सही दिशा तू दीजिए,रख जीवन को साध।। देना सच्चा साथ भी,प्रभु पूजा है एक। जैसे सुंगध पुष्प की,शोभा... Read more

ग़ज़ल

दम नहीं बात में , मुहब़्ब़त में । आज पाखण्ड है अक़ीदत में ।। आँख में लालिमा जो छाई है, रात बीती है तेरी ... Read more

हम सब को अवसर मिला,रखें शहर को स्वच्छ।

हम-सब को अवसर मिला,रखे शहर को स्वच्छ । दूर करें सब गन्दगी, यही पाजटिव पक्छ । यही पॉजटिव पक्छ , स्वच्छता से हो यारी। रोग आदि हो द... Read more

गीतिका

गीतिका आधार छंद- त्रिलोकी मात्रा विधान- 20 मात्रा। 11,10 पर यति। यति के पूर्व पश्चात त्रिकल, अंत में लगा। उठ प्रातः लो नित्य,ना... Read more

गीतिका

गीतिका आधार छंद- त्रिलोकी मात्रा विधान- 20 मात्रा। 11,10 पर यति। यति के पूर्व पश्चात त्रिकल, अंत में लगा। उठ प्रातः लो नित्य,ना... Read more

में दिखाऊंगा जब हुनर अपना

में दिखाऊंगा जब हुनर अपना खुद बुलंदी पे होगा सर अपना रास्ता जितना पुरखतर अपना होसला उतना मोअतबर अपना ख़ोफ इतना भी उस... Read more

शांतचित्त से युध्द करो

मन के अंदर की शंका से, शांतचित्त से युध्द करो। अधोगमन करने वाले हर, मार्ग सभी अवरुद्ध करो।। पाला दिक्कत वाला है तो, पल में पलटो ... Read more

में तेरे प्यार में पागल सा हो गया हूँ!

में तेरे प्यार में पागल सा हो गया हूँ, तेरा चेहरा, मेरे लिए सपना सा हो गया है! देख कर तेरी आँखें, मैं भावूक सा हो गया हूँ, च... Read more