Skip to content

रोज डे अपना मनाती शायरी

डॉ मधु त्रिवेदी

डॉ मधु त्रिवेदी

गज़ल/गीतिका

February 10, 2017

रोज डे अपना मनाती शायरी
साथ तेरा फिर मिलाती शायरी

पास मुझको जब बुलाता रोज तू
भाव सुंदर तब जगाती शायरी

बात दिल मेरा कहे जब आपसे
आह में तेरी समाती शायरी

जब मुझे प्रपोज करता वो तभी
प्यार भंगिमा से सजाती शायरी

वीक वैलेंटा मना कर यहाँ
जिन्दगी को राह लाती शायरी

प्रेम हो जाये किसी से जब कभी
रात में नींदें उड़ाती शायरी

हो गये पागल इश्क में अब सभी
तब सदा खुद को भुलाती शायरी

जब नजर से मिल नजर हो एक तब
आशिकों को यूँ सताती शायरी

बेवफा जब आपसे कोई करे
मौत युगलों को दिलाती शायरी डे अपना मनाती शायरी
साथ तेरा फिर मिलाती शायरी

पास मुझको जब बुलाता रोज तू
भाव सुंदर तब जगाती शायरी

बात दिल मेरा कहे जब आपसे
आह में तेरी समाती शायरी

जब मुझे प्रपोज करता वो तभी
प्यार भंगिमा से सजाती शायरी

वीक वैलेंटा मना कर यहाँ
जिन्दगी को राह लाती शायरी

प्रेम हो जाये किसी से जब कभी
रात में नींदें उड़ाती शायरी

हो गये पागल इश्क में अब सभी
तब सदा खुद को भुलाती शायरी

जब नजर से मिल नजर हो एक तब
आशिकों को यूँ सताती शायरी

बेवफा जब आपसे कोई करे
मौत युगलों को दिलाती शायरी

Author
डॉ मधु त्रिवेदी
डॉ मधु त्रिवेदी प्राचार्या शान्ति निकेतन कालेज आगरा स्वर्गविभा आन लाइन पत्रिका अटूट बन्धन आफ लाइन पत्रिका झकास डॉट काम जय विजय साहित्य पीडिया होप्स आन लाइन पत्रिका हिलव्यू (जयपुर )सान्ध्य दैनिक (भोपाल ) सच हौसला अखबार लोकजंग एवं ट्र... Read more
Recommended Posts
ग़ज़ल- ये नहीं पूछना क्या करे शायरी
ग़ज़ल- ये नहीं पूछना क्या करे शायरी ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ ये नहीं पूछना क्या करे शायरी घाव हो गर कोई तो भरे शायरी तेरा कुनबा रहे आसमाँ... Read more
दो दिलो को पास लाती शायरी....
मापनी...2122,2122,212 प्यार को दिल में जगाती शायरी, दो दिलो को पास लाती शायरी।। गम ख़ुशी के साथ आती शायरी, उम्र भर रिश्ता निभाती शायरी।। खूबसूरत... Read more
II शायरी II
भेद दिल के सब बताती शायरी l दो दिलों को पास लाती शायरी ll बात जो बनती नहीं तकरीर से l चंद लफ़्ज़ों में सुनाती... Read more
शायरी से आज
शिकवे हज़ार करने हैं हमको किसी से आज मन्सूब इसलिए हुए हम शायरी ...से आज लगने लगा है डर मुझे इतनी खुशी से आज पूछा... Read more