.
Skip to content

बेटियाँ खुश रहे ये दुआ दीजिये

Nitin Sharma

Nitin Sharma

गज़ल/गीतिका

January 23, 2017

सर सभी का यहाँ अब झुका दीजिये
नातुआ हम नहीं ये दिखा दीजिए

प्यार सब के दिलो में बढ़ा दीजिये
नफरतें आज सारी घटा दीजिये
?
बेटियाँ खुश रहे ये दुआ है मे’री
गम दिलों के सभी के भुला दीजिये
?
क्या से क्या बन गया है खुदा आदमी
दर्द दिल का बढ़ा है दवा दीजिये
?
हर तरफ भेड़िये अब खड़े है यहाँ
बेटियाँ खुश रहे ये दुआ दीजिये
?
बेवज़ह तुम को कोई सताये यहाँ
गोलियों से उन्हें फिर उड़ा दीजिये
?
देश का मान सम्मान है बेटियाँ
बात सब को यही अब बता दीजिए
?
हम किसी से नही कम बता देंगे हम
सब के दिल में जगह बस दिला दीजिये
?
जिंदगानी फ़कत चार दिन की नितिन
अब जरा सा यहाँ मुस्कुरा दीजिये

Author
Nitin Sharma
नितिन शर्मा , इटावा कोटा ( राजस्थान ) - ग़ज़ल /मुक्तक लेखन मोबाइल - 9784824274
Recommended Posts
आज परदा हटा दीजिये
आज परदा हटा दीजिये बात दिल की बता दीजिए कीजिये दूर दिल से नहीं चाहें कोई सजा दीजिये स्वप्न अपने सजा लेंगे हम नींद का... Read more
बेटियाँ
बेटियाँ हर कोख कौम देश का अभिमान बेटियाँ कर रही हैं राष्ट्र का निर्मान बेटियाँ प्रकृति प्रदत्त प्रेम की संतान बेटियाँ प्रभू ने खुद रचा... Read more
~~मेरी दुआ तेरे लिए~~
मैं नहीं चाहता कि तू मुझ को दुआ दे मैं नहीं चाहता कि तू मुझे वफ़ा दे मैं नहीं चाहता की रब से, मेरे लिया... Read more
बाग़ को फिर आज महका दीजिये
बाग़ को फिर आज महका दीजिये बिन पिलाये मीत बहका दीजिये ।।1 आग सावन ने लगाईं खूब जो और इसको आज दहका दीजिये।।2 साज दिल... Read more